Error message

  • Warning: Creating default object from empty value in ctools_access_get_loggedin_context() (line 1411 of /var/www/html/sites/all/modules/ctools/includes/context.inc).
  • Warning: Creating default object from empty value in ctools_access_get_loggedin_context() (line 1411 of /var/www/html/sites/all/modules/ctools/includes/context.inc).

डीडीसीए

विद्यार्थियों के लिए अनुदेश

प्रस्तावना

नाइलिट कालीकट, नाइलिट नई दिल्ली का एक केन्द्र है, जो इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग, संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार की एक स्वायत्त वैज्ञानिक संस्था है। भारत सरकार को अनुसूचित जाति के ग्रामीण युवाओं को सूचना प्रौद्योगिकी के निम्नलिखित रोजगार उन्मुखी पाठ्यक्रमो में शिक्षण तथा प्रमाणन की परियोजना दी गई है, जिसे इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार द्वारा वित्तपोषित किया गया है।  

कम्प्यूटर अनुप्रयोगों में डीओईएसीसी द्वारा प्रमाणित डिप्लोमा (पीएससी अनुमोदित)

कम्प्यूटरीकृत शब्द संसाधन में डीओईएसीसी प्रमाणन

लाभ

इन प्रशिक्षण कार्यक्रमों का उद्देश्य सूचना प्रौद्योगिकी के ऐसे अतिरिक्त क्षेत्रों में रोजगार योग्यता का प्रशिक्षण प्रदान करना है, जिनमे विद्यार्थी अपने नियमित पाठ्यक्रमों के साथ ही चलने वाले पाठ्यक्रमों के रूप में अद्ययन कर सकते है।   

अनुमोदन

केरल सरकार ने अपनी अधिसूचना (जीओ (एमएस) सं. 37/2012 P&ARD दिनांक 16/07/2012 के जरिए डीसीए पाठ्यक्रम को सरकारी सचिवालय, केपीएससी आदि में सहायक के पद पर चयन के लिए अर्हता के रूप में अनुमोदित किया है। 

तिथियाँ, अवधि, समय

यह पाठ्यक्रम सितम्बर 2012 से आरम्भ होगा। डीडीसीए पाठ्यक्रम 360 घंटे की अवधि का है जिसे 6 महीने में एक अंशकालीन पाठ्यक्रम के रूप में पूरा किया जा सकता है और डीसीडब्ल्यूपी पाठ्यक्रम 120 घंटे की अवधि का है जिसे 3 महीने की अवधि मे पूरा किया जा सकता है। विद्यार्थियो को चुने गए पाठ्यक्रम के आधार पर 3 महीने/6 महीने के लिए सप्ताह में 3 घंटे/6 घंटे का प्रशिक्षण लेना होगा जो आमतौर पर अवकाश के दिन (शनिवार/रविवार/सार्वजनिक अवकाश के दिन शाम के समय) रखे जाते हैं जिससे वे अपने नियमित अध्ययन को प्रभावित किए बिना इन पाठ्यक्रमो में हिस्सा ले सकें। 

कौन इसके पात्र हैं :

डीओईएसीसी प्रमाणित डीसीए :

अनुसूचित जाति श्रेणी के स्नातक विद्यार्थी जिनकी पारिवारिक वार्षिक आय 3.0 लाख रु. से कम है। 

डब्ल्यूपी में डीओईएसीसी प्रमाणन :

अनुसूचित जाति श्रेणी के 10+2 उत्तीर्ण अथवा समकक्ष जिनकी पारिवारिक वार्षिक आय 3.0 लाख रु. से कम है।

प्रशिक्षण केन्द्र

पालक्कड़, त्रिसुर, मलप्पुरम, कोझीकोड, व्यानाड, कन्नूर तथा कासरगोड़।

परीक्षा तथा प्रमाणन

पाठ्यक्रम पूरा करने के उपरान्त विद्यार्थियों को नाइलिट, कालीकट द्वारा आयोजित एक परीक्षा में बैठना पड़ेगा और सफल विद्यार्थियों को नाइलिट द्वारा डीडीसीए/डीसीडब्ल्यूपी प्रमाण-पत्र जारी किए जाएंगे। 

फीस

यह पाठ्यक्रम इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग, संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा पूर्णतः प्रायोजित है तथा चुने गए पात्र विद्यार्थियों को प्रशिक्षण में हिस्सा लेने के लिए कोई फीस अदा करने की जरूरत नहीं है। विद्यार्थियों का चयन शैक्षिक योग्यता की परीक्षा मे अंको पर आधारित गुण के आधार पर किया जाएगा और उपलब्ध सीटों की संख्या तक सीमित होगा तथा मंत्रालय द्वारा निर्धारित अन्य शर्तें एवं निबंधनें लागू होंगी।  

पंजीकरण

वेबसाइट www.calicut.nielit.in के माध्यम से ऑनलाइन पंजीकरण किया जा सकता है या प्रवेश के फार्म डाउनलोड करके डाक द्वारा समन्वयकर्ता, डीडीसीए/डीसीडब्ल्यूपी प्रशिक्षण, नाइलिट, कालीकट, पो.बा. सं. 5, एनआईटी परिसर पो.आ. कालीकट-673601 को भेजा जा सकता है। अधिक जानकारी के लिए कृपया सम्पर्क करें : सरिता/प्रताप फोन नं. 04952287266 अथवा 04952287179  विस्तार : 224/225/211

सम्पर्क सूचना :

0495-2287266,2287268,2287179- विस्तार 224/211

फैक्स: 0495 2287168

ई-मेल : its@calicut.nielit.in

Hindi